भोपाल BHOPAL EYE भोपाल पुलिस द्वारा विभिन्न संगठनों व व्यापारियों के सहयोग से प्रारंभ की गई एक अभिनव पहल है, जिसका शुभारंभ आज डीआईजी शहर श्री इरशाद वली द्वारा पुलिस कंट्रोल रूम में किया गया एवं आमजन में जागरूकता हेतु हरीझंडी दिखाकर जागरूकता वाहन को रवाना किया गया।"BHOPAL EYE" के माध्यम से शहर के व्यवसायिक/निजी भवनों/प्रतिष्ठानों के प्रबंधकों के सहयोग से उनके भवनों/प्रतिष्ठानों में सीसीटीवी कैमरे लगवाये जाएंगे,


 *"BHOPAL EYE* रखेगी असामाजिक तत्वों व अपराधियों पर नज़र, अपराधों पर लगेगा अंकुश:-


 भोपाल BHOPAL EYE भोपाल पुलिस द्वारा विभिन्न संगठनों व व्यापारियों के सहयोग से प्रारंभ की गई एक अभिनव पहल है, जिसका शुभारंभ आज डीआईजी शहर श्री इरशाद वली द्वारा पुलिस कंट्रोल रूम में किया गया एवं आमजन में जागरूकता हेतु हरीझंडी दिखाकर जागरूकता वाहन को रवाना किया गया।"BHOPAL EYE" के माध्यम से शहर के व्यवसायिक/निजी भवनों/प्रतिष्ठानों के प्रबंधकों के सहयोग से उनके भवनों/प्रतिष्ठानों में सीसीटीवी कैमरे लगवाये जाएंगे, जो को आईपी एड्रेस से कनेक्ट रहेंगे, जिसकी सीधी मॉनिटरिंग पुलिस कंट्रोल रूम के माध्यम से की जा सकेगी, जिससे शहर में हो रही अवांछनीय/अवैधानिक गतिविधियों पर नजर रखी जायेगी। डीआईजी शहर श्री इरशाद वली द्वारा विगत महीने विभिन्न संस्थानों स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, बैंक/एटीएम, शॉपिंग मॉल, सिनेमाघर, हॉस्पिटल, नर्सिंग होम, पेट्रोल पंप, धार्मिक स्थल, पार्किंग स्थल, डीजे/बैंड, नगर वाहन सेवा, बस/मैजिक, व्यापारी, मोहल्ले, कॉलोनियों एवं विभिन्न समुदायों के नागरिकगणों/व्यापारियों व प्रमुखों की पुलिस कंट्रोल रूम में लगातार बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें असामाजिक तत्वों व अपराधियों पर नज़र रखने व अपराधों पर अंकुश लगाने एवं आमजन व प्रतिष्ठानों की सुरक्षा व्यवस्था संबंधी महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की गई। भोपाल पुलिस द्वारा तैयार किया गया रोडमैप, उद्देश्य एवं सुझाव के बारे में विस्तृत रूप से चर्चा की गई एवं सुरक्षा व्यवस्था हेतु मान0 सुप्रीम कोर्ट व अन्य विभागों द्वारा जारी गाइडलाइंस/दिशा निर्देश से अवगत कराया गया। भोपाल पुलिस द्वारा विगत दिनों से शहर के थानों के विभिन्न व्यापारिक संस्थानों/प्रतिष्ठानों, मंदिर, मस्जिद, बैंक, एटीएम, स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, शादी हॉल/गार्डंन आदि महत्वपूर्ण संस्थानों की जानकारी एकत्र कर डाटा तैयार किया गया है, जिनके प्रमुखों/मालिकों से लगातार पुलिस कंट्रोल रूम से सम्पर्क कर सुरक्षा व्यवस्था सम्बंधी जानकारी/फीडबैक लिया जा रहा है एवं सुरक्षा में किसी प्रकार की कमी है तो उसे प्राथमिकता से तुरंत दूरस्थ करवाने, सीसीटीवी लगवाने, सुरक्षा गार्ड रखने आदि संबंधी दिशा-निर्देश भी दिये जा रहे है, जो सुरक्षा व्यवस्था में काफी कारगर साबित हो रहा है। डीआईजी श्री इरशाद वली के निर्देशानुसार एएसपी जोन-1 श्री अखिल पटेल, एएसपी क्राइम श्री निश्छल झारिया एवं एएसपी सायबर श्री संदेश जैन द्वारा भी लगातार विभिन्न संगठनों, प्रतिष्ठानों, व्यापारियों से पुलिस कंट्रोल रूम में द्विपक्षीय संवाद कर भोपाल पुलिस के विभिन्न सुझावों व उद्देश्यों से अवगत कराया गया एवं उनके सुझाव जाने गए,  जिस पर व्यापारियों व प्रतिष्ठानों/समूदायों के प्रमुखों द्वारा भोपाल पुलिस की उक्त अभिनव पहल को काफी सराहा गया  एवं पुलिस का पूर्ण सहयोग करने हेतु आश्वासित किया गया साथ ही महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए।भोपाल आई का उद्देश्य:-1 अपराधियों की सतत निगरानी।2- घटित अपराधों में संलिप्त अपराधियों के फुटेज के माध्यम से पहचान करना।3- अपराधियों में भय/डर का वातावरण उत्पन्न करना।4- आम नागरिकों में सुरक्षा का भाव जागृत करना।सुझाव 1- सभी अपने व्यावसायिक भवनों/प्रतिष्ठानों में अच्छी क्वालिटी के नाईट विज़न कैमरे लगवाएं। 2- सीसीटीवी कैमरे इस प्रकार लगवाये की बाहर का क्षेत्र भी कवर हो। 3- कम से कम 3 माह का डाटा अनिवार्य रूप से सेव करके रखें। 4- समय-समय सीसीटीवी कैमरे चैक करते रहें एवं आवश्यकतानुसार सुरक्षा गार्ड अवश्य रखें।उक्त अभिनव पहल सुरक्षा व्यवस्था में निश्चित ही कारगर साबित होगी, जिससे असामाजिक, आपराधिक तत्वों पर नजर रखने के साथ-साथ अपराधों पर काफी हद तक अंकुश लग सकेगा। साथ ही आमजन में सुरक्षा की भावना जागृत होगी एवं सुरक्षा व्यवस्था बनी रहेगी। शहर में शांति व सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने हेतु आमजन से भोपाल पुलिस को काफी अपेक्षाएं है एवं पुलिस का सहयोग हेतु आमजन से अपील का जा रही है।


Popular posts
विदिशा मारपीट के आरोपी की जमानत न्यायालय ने की खारिज
Image
रीवा अवयस्क बालक के साथ अप्राकृतिक कृत्य करने वाले आरोपी की जमानत निरस्त
Image
नई दिल्ली 3 मई तक लाकडाउन बढ़ा  प्रधानमंत्री नरेंद मोदी  का देश के नाम संबोधन पूरा पड़े
Image
मध्यप्रदेश के 30 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में स्मार्ट कक्ष का निर्माण पूरा हुआ आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा प्रत्येक स्मार्ट कक्ष में 35 कम्प्यूटर और एक मल्टी प्रिन्टर मशीन लगाने के लिये 15 लाख रूपये के मान से कुल 4 करोड़ 80 लाख रूपये की राशि मंजूर की
भोपाल लायंस क्लब आफ भोपाल ग्लोरियस एवं जीवन सार्थक ग्रुप भोपाल के सदस्यों द्वारा गौमाता व जरूरतमन्द लोगो को भोजन व्यवस्था की एवं लगभग 540 भोजन के पैकेट  वितरीत किये
Image